सेक्सी मूवी दिखाएं हिंदी में

हृदयाचे कार्य काय आहे

हृदयाचे कार्य काय आहे, ओह....अरुण...बेबी...माइ गॉड, हिलना मत, वो विनती करने लगी, वो इस फीलिंग को अपने अंदर समेटना चाहती थी. उसके पैर अपने आप ही और खुलते चले गये. नही तो तुम मुझे घर पहुच कर सज़ा दे सकते हो. कहकर आरोही हंसते हुए वापस जाने लगी. अरुण वही उसकी बात सुन चौंकते हुए खड़ा रहा.

ग्रेट, अब सब मट्टी पलीत कर दी तूने. हमें नयी नयी चूत मिली थी, उसे भी नाराज़ कर दिया. अब भुगत.. अरुण के दिमाग़ में आवाज़ ने कहा अरुण तो ये सुनकर तुरंत ही एग्ज़ाइटेड स्टेट मे आ गया.. वो सच मे इस घर से कुछ दिनो के लिए दूर जाना चाहता था. थोड़ा मूड भी फ्रेश हो जाएगा और अपनी सिस्टर्स के कारण जो उसके मन मे हर वक़्त सेक्स ही सेक्स घूमता रहता है शायद उस से भी निजाद मिल जाए..

झूठी, तेरे ये कड़े कड़े चूचुक बता रहें हैं कि तू कित्ती मस्त हो रही है और मुझसे छोड़ने के लिये बोल रही है। लेकीन सच में यार असली मजा तो तब आता है जब किसी मर्द का हाथ लगे… हृदयाचे कार्य काय आहे नीचे आकर वो स्नेहा के रूम मे गया. तो वो बिना चादर के बिस्तर पर सो रही थी. उसकी हमेशा से आदत थी, सोती वो चादर डाल के थी लेकिन नींद मे ही सब कुछ उपर से उठा देती थी. आज उपर से उसने कुछ भी पहना हुआ नही था. अरुण का लंड उसे नंगे सोते देखकर ही खड़ा होने लगा.

सेक्सी बफ सेक्सी बफ सेक्सी बफ

  1. रूम मे पहुचते ही उसने सुप्रिया को मेसेज कर दिया कि जब सब सो जाए तो उसके रूम मे आ जाए. एक और गिफ्ट देना है उसे. विंक की स्माइली लगा के उसने एसएमएस सेंड कर दिया.
  2. निशा ने अपनी आँखें तरेरि और उसके कंधे पर तेज़ी से मारा. सुन, रोहित, तू एक बार पहले ही झड चुका है और तूने प्रॉमिस किया था कि इसके बाद मेरी बारी है. अगर तू नही चाहता कि मैं किसी और को ढूँढ लूँ तो चुपचाप अपना काम करो, निशा हंसते हुए बोली. भोजपुरी हरियाणवी गाना
  3. दोबारा करें? उसने अरुण के लंड की तरफ देखा तो उसकी चूत से बाहर निकलकर किसी मुर्दे की तरह लटक रहा था, फिर एक आस लेकर उसकी आँखो मे देखने लगी. लेकिन जब उसकी नज़र अरुण के चेहरे पर पड़ी तो वो तेज़ी से हँसने लगी. अरुण के चेहरे पर परेशानी के भाव थे. मेरी कभी कोई इच्छा ही नही हुई या कह सकते हैं कि कभी ज़रूरत ही नही पड़ी.. स्नेहा ने टमाटर की तरह लाल होते हुए कहा.
  4. हृदयाचे कार्य काय आहे...और चंपा भाभी ,कामिनी भाभी के घर गयी थीं , मैं गहरी नींद में सो रही थी तो बसंती को ये काम सौंपा गया था की मुझे उठा के खाना खिला दे। अरे कोई बात नहीं ,दो तीन महीने की बात है। और बस , आँगन में जो चुल्ला लगा है न बस उसी में बाँध देंगे , जैसे बाकी कुतिया बांधते है , सांकल से , फिर तो रॉकी खुदै चाट चुट के इसकी चूत गरम कर देगा ,और एक बार जब उसका लंड घुस के , गाँठ लग गयी बस , फिर छोड़ देंगे उसको , …
  5. अरुण ने भी एक बार पीछे मूड के देखा और सुप्रिया की ओर मुस्कुरा कर देखते हुए एक धक्का और लगा दिया सोनिया की चूत मे. सोनिया का शरीर कांप कर उसके ऑर्गॅज़म की दशा दिखाने लगा. सुप्रिया ने पीछे दरवाजा बंद किया और उन दोनो के पास आकर बिस्तर पर बैठकर देखने लगी. मैंने तुरंत जोर से हामी में सर हिलाया, मैं किसी भी हालत में अपनी कुठरिया में ही सोना चाहती थी , वरना मेरा जबरदस्त हो जाता।

पोर्न क्सक्सक्स वीडियो

भोसड़ी के सुबह से दो बार तूने मेरा चूतिया काटा है. इससे बढ़िया था मैं आज तुझे ये ब्रेक देता ही नही. आवाज़ ने अपना गुस्सा अरुण पर निकालते हुए कहा

अरुण अपने लंड के सीधे खड़े होते ही मुस्कुराते हुए स्नेहा की ओर देखने लगा. तब तक पॅंट उसके पैरो मे पड़ी हुई थी. उसकी उंगली मेरी रसीली चूत से अंदर-बाहर हो रही थी और मेरी चूत रस से गीली हो रही थी। बारिश तो लगभग बंद हो गई थी पर मैं अब मदन रस में भीग रही थी। उसका अंगूठा अब मेरी क्लिट को रगड़, छेड़ रहा था।

हृदयाचे कार्य काय आहे,अरुण सोचता है कि इसने अभी तक मुझे देखकर लड़ना स्टार्ट क्यू नहीं किया..ओह माइ गॉड..यही थी सुबह. अब तो मैं गया. अब तो पक्का डाइरेक्ट हॉस्पिटल मे दिखूंगा....

आरोही की बॉडी सुप्रिया की बॉडी मे पूरी तरह बिन्धि हुई थी. दोनो के हाथ एक दूसरे के अंगो को सहला रहे थे..कभी दूधों को दबाते कभी चुतड़ों पर पहुच कर कसमसाते और होंठ एक दूसरे मे मग्न थे..

दोनो बहने साथ मे उसके लंड को चूमने चाटने लगी. दोनो के होठ मिलकर उसके लंड को चूसने मे लगे हुए थे. और दोनो नशीली आँखो से उसकी आँखो मे देख रही थी.बहन को ससुराल में चोदा

उसने ये कहते हुए टीशर्ट को निकाल दिया फिर उसके हाथ नीचे अपनी पैंटी पर पहुचने लगे,आइ लाइक यू. आइ लाइक यू आ लोग, उसने ये कहते हुए पैंटी निकाल दी फिर अरुण का हाथ पकड़ने लगी. मैं बड़ी मुश्किल से उठकर खड़ी हुई और चन्दा से बोली- क्यों चलें… पर तब तक मैंने देखा की चन्दा ने मेरी चोली, घाघरा और साया उठाकर अपने कब्जे में कर रखा है।

स्नेहा तभी आरोही को आँख मार खड़ी हुई और पानी मे कूद पड़ी. पानी के अंदर ही उसने अपने बिकिनी टॉप को थोड़ा साइड मे कर दिया तो दोनो दूधो के निपल फ्री हो गये.

स्नेहा बस उसे देख कर मुस्कुराए जा रही थी. वो दोनो एक दूसरे का हाथ पकड़े आगे गये फिर एक खुला सा एरिया देखकर वही चादर बिछा दी और दोनो सट कर लेट गये. फिर स्नेहा अरुण को कॉनस्टिलेशन्स और तारों के बारे मे फॅक्ट्स बताने लगी और अरुण भी उसकी बतो को ध्यान से सुनता रहा.,हृदयाचे कार्य काय आहे ओह माइ गॉड, येस्स्स्स, येस्स्स्स, तेरी सभी बहनें वर्जिन हैं. एसस्स्स्स्सस्स, अगर तू अंदर होता तो मैं तुझे किस कर लेता. आइ लव यू मॅन.. दिमाग़ में उस आवाज़ ने अपनी खुशी प्रकट की

News